गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन

415
4905

गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर का लंबी बीमारी के चलते रविवार की शाम निधन हो गया। अग्नाशय की गंभीर बीमारी से पीड़ित पर्रिकर ने 63 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। निधन के वक़्त मनोहर पर्रिकर पणजी में अपने आवास पर ही थे।

पर्रिकर के निधन पर पूरा देश शोकाकुल है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा, कि “गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन हो जाना अत्यंत दुख है। घंटों पहले, पर्रिकर के कार्यालय ने ट्वीट किया था कि, उनकी स्थिति “अत्यंत गंभीर” थी और “डॉक्टर अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं”। पिछले एक साल में गोवा, मुंबई, न्यूयॉर्क और नई दिल्ली के अस्पतालों में उनका इलाज चलता रहा था।

अग्नाशय की बीमारी से जोझ रहे थे पर्रिकर
मनोहर पर्रिकर को फरवरी 2018 में अग्नाशय में गंभीर बीमारी के बारे में पता चला। आईआईटी बॉम्बे से ग्रेजुएट पर्रिकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सक्रिय प्रचारक भी थे। वह तीन बार गोवा के मुख्यमंत्री रहे। अग्नाशय की गंभीर बीमारी से पीड़ित होने के बावजूद वे कभी अपनी जिम्मेदारियों से पीछे नहीं हटे। उन्होंने कहा था कि मानव मस्तिक किसी भी बीमारी पर जीत पा सकता है।

अमेरिका से इलाज कराकर लौटे थे पर्रिकर
पर्रिकर सितंबर में अमेरिका से इलाज कराकर भारत लौटे थे। इससे पहले एक बार और इलाज के लिए तीन महीने तक उन्हें अमेरिका में रहना पड़ा था। अमेरिका से लौटने के बाद पिछले साल अक्टूबर में एक बार फिर तबीयत बिगड़ने पर उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। एक महीने एम्स में भर्ती रहने के बाद उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए गोवा ले जाया गया था।

415 COMMENTS

  1. What determines the vastness of your ring up penis, is the brains of the erectile aggregation to subscribe to blood. This erectile stock is called Corpora Cavernosa and lies at the whack tasoft.hotte.se/for-kvinder/hertab-kvinder.php of your penis. When you prick up one’s ears to sexually exited, blood fills in this Corpora Cavernosa making your penis swell and attain an erection. Any aim at increasing the penis bulk is in the future directed at expanding Corpora Cavernosa.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here