प्रेमी की हत्या कर शव के किये टुकड़े, बिरयानी बनाकर मजदूरों को खिलाई

7
1414

दुबई। यूएई।

संयुक्त अरब अमीरात में एक महिला द्वारा जघन्य अपराध किये जाने का मामला सामने आया। महिला ने अपने ब्यायफ़्रेंड की हत्या करके पहले उसके शव के टुकड़े किये और फिर उसकी बिरयानी बनाकर मजदूरों को खिला दिया।

ये भी पढ़ें।।।। 95 वर्षीय बुजुर्ग पर 36 हज़ार लोगों की हत्या का आरोप

महिला ने खुद अपना अपराध स्वीकार करते हुए कहा कि, ब्यायफ़्रेंड की बेबफाई के चलते उसने इस वारदात को अंजाम दिया। महिला के मुताबिक उसका ब्यायफ़्रेंड किसी दूसरी महिला से शादी करना चाहता था। जिसको लेकर वो अपना आपा खो बैठी और उसने अपने ही प्रेमी की हत्या कर डाली। जब इससे भी गुस्सा शांत न हुआ तो पहले तो उसके शव के टुकड़े किये और फिर उसकी बिरयानी बनाकर मजदूरों को खिला दी। और बाकी बचे टुकड़े कुत्तों के आगे डाल दिए। सबूत मिटाने के लिए महिला ने बॉयफ्रेंड के पर्स, मोबाइल और कपड़ों को आग लगाकर स्वाहा कर दिया।

हत्या के बाद महिला ने बेच दिए जेवर

प्रेमी का मर्डर किये जाने के बाद महिला ने उसके शव के छोटे-छोटे टुकड़े किये। जिसके बाद उसने अपने कीमती जेवर बेचकर उसने बड़ी छुरी, बड़े डोंगे, फ्राइंग पैन, प्रेशर कूकर, मीट ग्राइंडर और गैस स्टोव खरीदा। फिर इस सामान का उपयोग कर के उसने अपने प्रेमी की लाश के टुकड़े इकट्ठे कर के उसकी बिरयानी बना डाली।

चार रात तक बनाई गई बिरयानी

आरोपी महिला के पड़ोसियों ने बताया कि उसके घर से लगातार चार रात तक 12 बजे से सुबह 5 तक गोश्त पकाए जाने की महक आती थी। ऐसा अनुमान है कि वो रोज रात को बिरयानी बनाया करती थी। कई बार पड़ोसियों ने देखा कि वो रात में बनाई गई बिरयानी मजदूरों को खिलाया करती थी। ऐसा वो इसलिए रात में किया करती थी ताकि किसी को शक न हो।

ऐसे हुआ हत्या का खुलासा

जब कई दिनों तक मृतक घर नहीं पहुंचा तो उसके भाई ने महिला के घर पहुंचकर जानकारी ली। इस दौरान मृतक के भाई को मिक्सी में एक इंसानी दांत फंसा हुआ नजर आया। शक के आधार पर उसने सारा घटनाक्रम पुलिस को बताया। जिसके बाद पुलिस ने तुरन्त महिला के घर जाकर उसको हिरासत में ले लिया। मिक्सी से बरामद दांत का डीएनए टेस्ट करवाया गया। इंसानी दांत की पुष्टि होने पर जब महिला से कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। महिला अब सलाखों के पीछे है।

7 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here